Category Archives: वास्तु टिप्स

पैसों का नुकसान करवाती हैं घर दुकान में मौजूद ये 5 चीजें These Things Make Money Loss

घर दुकान में पैसों का नुकसान करवाती है ये चीजें Pese ka nuksan krvati hai ye chije

अधिकांश लोग ऐसे होते हैं जो चाहे कितनी भी कोशिश कर लें परंतु अपने धन को संभालकर नहीं रख पाते। ना चाहते हुए भी उन्हें लगातार पैसों का नुकसान होता रहता है। ऐसी स्थिति में इसका कारण समझ पाना बहुत मुश्किल हो जाता है। कई लोग ऐसे भी हैं जो कड़ी मेहनत करते हैं

Advertisements

 

पर फिर भी उन्हें उसका उचित फल प्राप्त नही होता। कई बार लगातार पैसों के नुकसान का कारण वास्तु दोष भी हो सकता है ऐसे में लक्ष्मी माँ की कृपा पाने के लिए घर में कई बातों का ध्यान रखना बहुत जरुरी है। इसके सम्बन्ध में वास्तु शास्त्र में कई बातें बताई गई हैं।

मकड़ी का जाला

माँ लक्ष्मी की कृपा पाने के लिए घर और दुकानों में साफ -सफाई का पूरा ध्यान देना चाहिए। जिस घर में सफाई नहीं होगी वहां मकड़ी के जाले तो बनेगे ही और ऐसी जगह माँ लक्ष्मी की कभी कृपा नहीं होती और वहां पैसे की परेशानी हमेशा बनी रहती है जहां मकड़ी के जाले होते हैं 

Advertisements

 

उस घर के लोगों का दिमाग काम नही करता और वे हमेशा किसी दुविधा में रहते हैं इस वजह से वे सही से निर्णय नहीं ले पाते और हमेशा असफल रहते हैं। घर में  मकड़ी के ज़ाले होने से आलस्य बढ़ता है और घर में रहने वाले लोगो  के स्वास्थ्य में  इसका बहुत बुरा असर पड़ता है।

नलों से पानी का टपकना

घरों में नल से पानी का टपकना एक आम बात है इसलिए सभी इसे अनदेखा करते हैं परंतु नल से पानी का टपकना वास्तु में आर्थिक नुकसान का बहुत बड़ा कारण माना है। घरों और दुकानों के नल यदि खराब हो तो उसे जल्द ही सही करवा लें क्योंकि वास्तु नियम के अनुसार नल से पानी टपकना धीरे-धीरे धन के खर्च होने का संकेत है।   

Advertisements

 

घरों दुकानों में रखें कूड़ा

घरों में कबाड़ इकट्ठा करने से घर में नकारात्मक ऊर्जा फैलती है। टुटा हुआ पलंग, बर्तन या कोई अन्य लकड़ी का सामान भी घर में नहीं रखने चाहिए इससे धन लाभ में कमी आती है और खर्च भी बढ़ता है। छत पर या सीढ़ियों के नीचे कबाड़ इकट्ठा करना भी आर्थिक नुकसान का कारण है। 

घरोंदुकानों में धन रखने की सही दिशा

यदि आप चाहते हैं कि आपके पैसों का नुकसान न हो तो आप जिस तिजोरी में धन रखते हैं उसे आप दक्षिण दिशा में इस प्रकार रखें की इसका मुंह उत्तर दिशा की ओर रहे। धन वृद्धि के लिए यह दिशा सबसे शुभ मानी गयी है। 

जल निकासी की दिशा

 जिनके घर या दुकानों में पानी की निकासी दक्षिण या पश्चिम दिशा में होती है उन्हें धन की समस्या के साथ- साथ और भी कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ता है। वास्तु के अनुसार उत्तर और पूर्व दिशा में जल की निकासी को आर्थिक दृष्टि से शुभ माना गया है।

Advertisements

 

क्यों लगाई जाती है घर में सात घोड़ो की फोटो Seven Running Horse Photo Meaning in Vastu

दौड़ते हुए घोड़े का फोटो घर में क्यों लगाते हैं 7 horse painting meaning

वास्तु में कई ऐसे नियम बताये गए हैं जिनका यदि पालन किया जाय तो व्यक्ति तमाम परेशानियों से मुक्ति पा सकता है. वास्तु में बताया गया है की यदि कोई व्यक्ति अपने घर में दौड़ते हुए घोड़े की तस्वीर लगाता है तो उस व्यक्ति की तमाम मुश्किल आसान हो सकती है.

Advertisements

 

दौड़ते हुए घोड़े सफलता, प्रगति और ताकत के प्रतीक माने जाते हैं. खासकर 7 दौड़ते हुए घोड़े व्यवसाय की प्रगति का सूचक माने गए हैं, क्योंकि शास्त्रों के अनुसार 7 अंक सार्वभौमिक है, प्राकृतिक है.

वास्तु में बताया गया है की इंद्रधनुष के रंग 7 होते हैं, सप्त ऋषि, शादी में सात फेरे, सात जन्म इत्यादि इसलिए 7 नंबर को प्रकृतिक और सार्वभौमिक माना गया है. इसलिए सात घोड़ों की तस्वीर को घर में लगाना शुभ माना गया है.

Advertisements

 

इसके अलावा व्यापार में प्रगति के लिए अपने ऑफिस की केबिन में 7 दौड़ते हुए घोड़ों की तस्वीर लगानी चाहिए. जब भी आप इन तस्वीरों को लगाए तो ध्यान रखे की  घोड़ों का मुंह ऑफिस के अंदर की ओर आते हुए होना चाहिए और दक्षिण दीवार पर तस्वीर लगानी चाहिए. इससे कार्य में गति प्रदान होती है. और जो व्यक्ति बार – बार इन घोड़ों को देखता है, इसका सीधा असर व्यक्ति की कार्यप्रणाली पर पड़ता है. अतः ये घोड़े आपके कार्य में गति प्रदान कर सफलता दिलाने में मददगार साबित होंगे.

7 घोड़ों की तस्वीर लगाने से जीवन में उतार-चढ़ाव देखने को नहीं मिलते. घर में माँ लक्ष्मी का वास होता है.  इसके लिए घर के मुख्य हॉल के दक्षिणी दीवार पर, घर के अंदर आते हुए मुख वाले घोड़े की तस्वीर लगाना चाहिए. जब भी आप घर में इस तस्वीर को ख़रीदे तो ध्यान रखे की घोड़े का चेहरा प्रसन्नचित मुद्रा में हो, ना कि आक्रोशित हो.

इसके अलावा घोड़े की तस्वीर खरीदते समय इस बात का भी ध्यान रखे की घर और ऑफिस की नकारात्मक ऊर्जा को दूर कर सकारात्मक ऊर्जा को लाने के लिए सफेद 7 घोड़े की तस्वीर लगानी चाहिए क्योंकि सफेद घोड़े  शक्ति और ऊर्जा का प्रतीक हैं साथ ही इनसे घर में सकारात्मक ऊर्जा आती है.

जो व्यक्ति कर्ज में डूब हुआ हो उसे अपने घर या ऑफिस में उत्तर – पश्चिमी दिशा में आर्टिफिशियल घोड़े का जोड़ा रखना चाहिए तथा इस बात का विशेष ध्यान रखे कि कभी भी टूटी फूटी तस्वीर घर में ना रखें. या धुंधली तस्वीर भी ना हो.

Advertisements

 

होना है मालामाल तो हनुमान जी की मूर्ति लगाएं इस दिशा में where to place hanuman photo in home

सफलता पाने के लिए इस दिशा में लगाए हनुमान जी की फोटो Right direction for hanuman’s photo

आप सभी जानते है कि कलयुग के देवता हनुमान जी मंगलवार के देवता हैं और शनिवार को भी उनका एकाधिकार है। प्रत्येक हनुमान भक्त के घर में हनुमान जी की मूर्ति या फोटो जरूर मिलेगी। लेकिन क्या आप जानते हैं हनुमान जी की मूर्ति को सही दिशा में रख देने से आप मालामाल हो सकते हैं।

Advertisements

 

ये मान्यता है कि कुंडली में सारे ग्रह ख़राब हो, लेकिन एक मंगल गृह उच्च है तो आपको आपके जीवन में बड़ा आदमी बनने से कोई नहीं रोक सकता। वहीँ अगर कुंडली में मंगल ग्रह अच्छा नहीं है, कमजोर है या दुश्मन के घर बैठा है तो इसका हमारे जीवन में बहुत बुरा असर पड़ता है उसे बलवान बनाना एक बहुत ही सहज उपाय है। तो आइये जानते हैं कौन से वे नियम हैं जिन्हें हमें बजरंग बली की फोटो लगते समय ध्यान रखना चाहिए। 

Advertisements

 

इस दिशा में लगाएं हनुमान जी का चित्र

यदि घर में देवी देवताओं के चित्र लगे हो तो घर परिवार में कई तरह की परेशानियां दूर हो जाती हैं। वास्तु के अनुसार घर में हनुमान जी का चित्र लगाने से कई लाभ और सफलताएं मिलती हैं आपकी बंद किस्मत खुल जाती है और वहीँ आर्थिक स्थिति भी प्रबल हो जाती है। हनुमान जी को दक्षिण दिशा बहुत पसन्द है और अगर आपने हनुमान जी की मूर्ति दक्षिण दिशा की ओर देखते हुए लगा दी तो आप पर कभी कोई संकट नहीं आएगा।

वास्तु शास्त्र के अनुसार हनुमान जी की फोटो हमेशा दक्षिण दिशा की ओर देखते हुए लगानी चाहिए इससे घर परिवार में  सुख-समृद्धि बढ़ेगी । इस दिशा में मुख करके हनुमान जी का फोटो इसलिए शुभ माना जाता है क्योंकि हनुमान जी ने अपना प्रभाव सबसे अधिक इसी दिशा में दिखाया है इसी दिशा में लंका भी है और सीता की खोज भी इसी दिशा में की थी,लंका दहन और राम – रावण का युद्ध भी दक्षिण दिशा में ही हुआ था। दक्षिण दिशा की ओर मुख करके बजरंगबली विशेष बलशाली हैं ।

वास्तु के अनुसार उत्तर दिशा में हंनुमान जी का चित्र लगाने पर  दक्षिण दिशा से आने वाली प्रत्येक बुरी शक्ति को हनुमान जी आने से रोकते हैं  इससे घर में सुख समृद्धि का आगमन होता है और परिवार हमेशा खुशुहाल रहता है। जिस रूप में बजरंगबली अपनी शक्ति का प्रदर्शन कर रहे हो ऐसे चित्र  घर परिवार में लगाने से किसी भी बुरी शक्ति का प्रवेश नहीं होता  हैं ।

Advertisements

 

जानिए बिजनेस करियर में सफलता पाने के उपाय Rules To Build A Wildly Successful Business

व्यवसाय में सफलता पाने के लिए कुछ चमत्कारी उपाय Secrets of Successful Business

ज्योतिष में कई ऐसे नियम बताये गए हैं जिनका यदि व्यक्ति पालन करें तो वह कई परेशानियों से छुटकारा पा सकता है. ज्योतिष शास्त्र में कोई भी घटनाओं के होने का समय दशा तथा गोचर पर निर्भर करता है। किसी जातक का विजनेस कैसा होगा यह सप्तमेष और दशा पर निर्भर करता है।

Advertisements

 

आज हम आपको वास्तु के कुछ ऐसे नयमो के बारे में बताने जा रहे जिनसे आपका बिजनेस उन्नति के शिखर में पहुच सकता है. तो आइए जानते हैं ऐसे ही कुछ वास्तु टिप्स जिन्हें अपना कर आप अपने बिजनेस में दिन दूना रात चौगुना बढ़ा सकते हैं

वास्तु के अनुसार सभी कीमती चीजे तथा पैसो को उत्तर की ओर अलमारी में रखना चाहिए.

वास्तु अनुसार ऑफिस में मालिक की सीट के पीछे मन्दिर नही बनवाना चाहिए.

Advertisements

 

वास्तु में बताया गया है की मालिक को ऑफिस में पूर्व या उत्तर की ओर मुह करके बैठना चाहिए. इसके अलावा पछिम की ओर मुह करके भी बैठ सकते हैं.

किसी भी फैक्ट्री या ऑफिस का केंद्र का स्थान हमेशा खाली होना चाहिए. केंद्र में भूलकर भी किसी वस्तु को ना रखे.

ऑफिस में मैनेजर अधिकारियों और निदेशकों के बैठने की सीट की व्यवस्था ऑफिस के दक्षिण पश्चिम या दक्षिण-पश्चिम दिशा में होना चाहिए।

Advertisements

 

वास्तु में बताया गया है की अकाउंट डिपार्टमेंट को दक्षिण-पूर्व दिशा में होना शुभ माना जाता है।

ऑफिस में यदि रिसेप्शन है तो उसे उत्तर-पूर्व दिशा में बनवाना चाहिए।

वास्तु के अनुसार मार्केटिंग डिपार्टमेंट को उत्तर-पश्चिम दिशा में स्थापित करना चाहिए।

Advertisements

 

इस दिशा में लगाओगे घड़ी और कैलेंडर तो हो जाओगे मालामाल According to vastu calendar and watch position

इस दिशा में लगे घडी कैलेंडर बना सकती है आपको धनवान top 7 ideas to watch and calendar direction

भारतीय वास्तु शास्त्र में घडी तथा कैलेंडर को एक ही माना गया है। दोनों ही समय की गणना बताने वाली चीजें हैं, इसलिए उन्हें घर के हर किसी दिवार में नहीं टांगा जाता है। वास्तु के अनुसार घर और ऑफिस में यदि घडी और कैलेंडर सही स्थान पर लगाए जाये तो इनके अच्छे परिणाम देखने को मिले है

Advertisements

 

वहीँ अगर वास्तु के नियमों के प्रतिकूल घडी ,कैलेंडर लगाए जाय तो इसके नुकसान भी उठाने पड़े हैं। घडी और कैलेंडर लगते समय यदि इन नियमों का पालन किया जाय तो घर में रहने वालों की किस्मत बदलते देर नहीं लगती उस घर में धन की कभी कमी नहीं होती। तो आइये जानते हैं वे कौन सी ऐसी चीजे हैं जिन्हें हमे हमेशा ध्यान रखना चाहिए।

घड़ी और कैलेंडर की दिशा घड़ीऔर कैलेंडर को हमेशा उत्तर पूर्व की दीवार में लगाना चाहिए और कभी भी घड़ीको दक्षिण की दिशा में नही लगाना चाहिए क्योंकि दक्षिण दिशा यम की दिशा मानी गयी है और यम को हिन्दू शास्त्र में मृत्यु का देवता माना गया है। वास्तु के अनुसार दक्षिण दिशा समय बताने वाली चीजो के लिए अशुभ मानी गयी है।   

Advertisements

 

खिड़की दरवाजों के पास लगाए बहुत से ऐसे लोग हैं जो दरवाजे के पीछे या खिड़की के पास घड़ी या कैलेंडर रखते हैं। ऐसा करने से  उस परिवार के सदस्यों के स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव पड़ता है। इसलिए कभी भी कैलेंडर और घड़ी को दरवाजे के पास और खिड़की के पीछे नहीं लगाना चाहिये। 

सिरहाने से दूर रखें घड़ी घड़ियों प्रयोग में यह ध्यान देना चाहिए की किसी भी प्रकार की घड़ी हो उसे रात को सोते समय अपने सिरहाने से दूर ही रखें क्योंकि रात को सन्नाटे में घड़ी की टिक टिक की आवाज से नींद में बाधा आती है। साथ ही आजकल घड़ियां इलेक्ट्रॉनिक सिद्धान्तों पर कार्य करती हैं और इलेक्ट्रॉनिक उपकरणों जो इलेक्ट्रो मैग्निटिक रेडिएशन निकालते है वे मस्तिष्क और ह्रदय के आस पास नकारात्मक ऊर्जा क्षेत्र बना देते हैं। इसके प्रभाव में सोना आपके स्वास्थ्य पर बुरा प्रभाव डाल सकता है। 

घडी अपने समय से पीछे चले इस बात का हमेशा ध्यान रखना चाहिए की घर की कोई भी घडी अपने समय से पीछे न चल री हो। हो सके तो अपनी घडी का समय 10-5 मिनट आगे ही रख लो क्योंकि वक्त के साथ चलने में ही जीवन की उन्नति और विकास का रहस्य छिपा है।

Advertisements

 

घड़ी का शीशा टूटा कैलेंडर फटा हो आपको इस बात का हमेशा ध्यान रखना चाहिए की घर की किसी भी घडी का शीशा टूटा न हो यदि टूटा हुआ है तो तुरंत उसे बदल लेना चाहिए क्योंकि इसका परिवार के सदस्यों पर नकारात्मक प्रभाव पड़ता है और ये भी ध्यान रहे की आपके घर का कोई कैलेंडर फटा हुआ न हो और उस पर कोई हिंसक चित्र भी नहीं होने चाहिए अधिक पुराने कैलेंडर भी घर में नहीं रखने चाहिए।

बंद घड़ी यदि आपके घर में बहुत दिनों से बंद घडी है तो उसे तुरंत हटा दें वास्तु के अनुसार बंद घडी घर में आते हुए पैसों को रोकती है। 

सिरहाने वाली दीवार में घड़ी और फोटो फेम लगाए अपने बेड के सिरहाने वाली दीवार में घडी फोटो फेम पोस्टर ये चीजे नही लगानी चाहिए। इससे सिरदर्द बना रहता है। अच्छा होगा यदि आप सामने वाली दीवार में ये चीजें लगाए इससे आपके मन की शांति बनी रहेगी।

Advertisements

 

दरवाजे के आसपास ये 3 चीजें ना रखे Vastu Tips For Main Door

घर के प्रवेश द्वार में ये तीन चीजें कभी ना रखें Main Door Vastu Tips

वास्तु का हमारे जीवन में बहुत अधिक महत्व है. वास्तु शास्त्र में बताया गया है की हमें घर के मेन गेट यानी मुख्य द्वार पर कुछ चीजों को नही रखना चाहिए इनसे व्यक्ति को कई नुकसान हो सकते हैं.  शास्त्रों के अनुसार के देवी-देवताओं की कृपा चाहिए तो दरवाजे की पवित्रता का विशेष ध्यान रखना चाहिए,

Advertisements

 

क्योंकि दरवाजे से ही सकारात्मक ऊर्जा और देव कृपा घर में प्रवेश करती है। तो आइये जानते हैं कौन से वे तीन चीजें जिन्हें कभी मेन गेट पर नही रखना चाहिए.

कांटेदार पौधे

घर के मेन गेट पर कभी भी कांटेदार पौधे नही रखने चाहिए. इन पौधों से से घर में नकारात्मक ऊर्जा का प्रवेश होता है और सकारात्मक ऊर्जा घर से बाहर चली जाती है जिससे व्यक्ति को कई परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है. इसके अलावा घर में प्रवेश करते समय ये कांटे हमें चुभ भी सकते हैं। इसी वजह से दरवाजे के आसपास कांटेदार पौधे नहीं रखना चाहिए।

Advertisements

 

टूटी खाट या पलंग या कूर्सी

वास्तु में बताया गया है की घर के मेन गेट यानी प्रवेश द्वारा पर टूटी खाट या पलंग या कूर्सी भी नही रखने चाहिए. टूटी कूर्सी या पलंग रखेंगे और उस पर कोई बैठ गया तो वह व्यक्ति गिर भी सकता है। इसीलिए दरवाजे के आसपास ये टूटी चीजें नहीं रखना चाहिए। इसके अलावा यह भी कहा जाता है की दरवाजे के आसपास ये टूटी चीजें रखने से घर में अशांति भी हो सकती है.

टूटे-फूटे बर्तन

कहा जाता है की घर में टूटे बर्तन नहीं रखने चाहिए. यह शुभ नहीं माना जाता. इसके अलावा कहा जाता है की मेन गेट पर यदि टूटे-फूटे बर्तन रखेंगे तो देवी-देवता इन्हें देखकर घर में प्रवेश नहीं करते हैं। घर में नकारात्मक ऊर्जा बढ़ती है। इसलिए भाग्य संबंधी बाधाओं को दूर करने के लिए दरवाजे के आसपास ये चीजें कभी ना रखें.

Advertisements

 

दिन के इस समय भूलकर भी ना सोये Sleeping Tips According to the Sastra

जाने दिन के किस समय नहीं सोना चाहिए vastu tips for sleeping

वैसे तो भरपूर नीद लेना स्वास्थ के लिए बहुत ही लाभदायक होता है. लेकिन नीद भी सही समय पर ही लेनी चाहिए. यदि सही समय में नीद ना ली जाय तो इससे कई नुकसान भी हो सकते हैं. इसके अलावा गलत समय में सोने से व्यक्ति को कई समस्याएं तो होती ही हैं साथ ही शास्त्रो में इसे बहुत ही शुभ बताया गया है.

Advertisements

 

तो आइये जानते हैं किस समय सोने से हो सकती है व्यक्ति को परेशानी.

सूर्योदय के समय कभी ना सोये

जो लोग सूर्योदय के बाद उठते हैं धन की देवी माँ लक्ष्मी उस व्यक्ति से रूठ जाती हैं. हमारे शास्त्रो में बताया गया है की सुबह का समय हमारे स्वास्थ्य की दृष्टि से बहुत ही अच्छा माना जाता है. इसके अलावा जो लोग सूर्योदय से पहले ही उठ जाते हैं उनका स्वास्थ अच्छा रहता है साथ ही बीमारियों की रोकथाम भी होती है।

Advertisements

 

दोपहर के समय में ना सोये

दोपहर के समय में सोने से भी व्यक्ति को कई नुकसान होते हैं शास्त्रों के अनुसार इस समय सोने को भी अपशकुन माना गया है। साथ ही, यह काम स्वास्थ्य को भी काफी नुकसान पहुंचाता है। जो लोग दिन में सोते हैं, वे मोटापे की गिरफ्त में जल्दी आ जाते हैं। इसलिए कभी भी दिन के समय नही सोना चाहिए.

सूर्यास्त के समय नही सोना चाहिए

प्राचीन मान्यता के अनुसार सूर्यास्त के समय सभी देवी-देवता पृथ्वी का भ्रमण करते हैं। इस दौरान जो लोग कर्म न करते हुए आलस्य के कारण सोए रहते हैं, वे लोग दुर्भाग्य के शिकार हो सकते हैं।सूर्यास्त का समय देवी-देवताओं के पूजन का समय होता है। इस समय में सोने वाले व्यक्ति को देवी-देवता की कृपा प्राप्त नहीं हो सकती है। शास्त्रों के अनुसार जो लोग अकारण ही शाम के समय सोते हैं, वे कई प्रयासों के बाद भी आसानी से सफलता प्राप्त नहीं कर पाते हैं।

Advertisements

 

रोज करें ये काम पा सकते हैं सफलता These 6 things change your life

रोज करें ये काम मिल सकती है ख़ुशी Simple Things To Change Your Life Forever

हर कोई चाहता है की उसे जीवन की सभी खुशियां मिले तथा वह एक सुखमय जीवन व्यतीत कर सके. सुखी जीवन के लिए हमारे शास्त्रो में बहुत सारे ऐसे काम बताये गए जिनकी यदि पुरे नियम के साथ किया जाये तो व्यक्ति को एक सुखी जीवन की प्राप्ति हो सकती है.

Advertisements

 

इसके अलावा भाग्य से संबंधित बाधाएं दूर हो सकती हैं। यहां जानिए एक श्लोक जिसमें 6 ऐसे काम बताए गए हैं जो भाग्य को भी बदल सकते हैं

भगवान विष्णु का पूजन करें

भगवान विषय की पूजा करने से व्यक्ति को बहुत ही लाभ होते हैं क्योंकि भगवान विष्णु परमात्मा के तीन स्वरूपों में से एक जगत के पालक माने गए हैं. इनकी पूजा अर्चना करने से व्यक्ति के घर में सुख-शांति आती है साथ ही व्यक्ति को सभी सुखो की भी प्राप्ति होती है.

Advertisements

 

एकादशी व्रत करें

एकादशी का व्रत भी भगवान विष्णु के लिए ही किया जाता है. एकादशी का व्रत करने से वयकायी के अनेक दुःख भी सुख में बदल जाते हैं साथ ही व्यक्ति को सभी सुखो की भी प्राप्ति होती है इसके अलावा व्यक्ति के घर में सुख-समृद्धि बनी रहती है।

श्रीमद् भागवत गीता का पाठ करें

कहा जाता है की श्रीमद् भागवत गीता भगवान श्रीकृष्ण का ही साक्षात् ज्ञानस्वरूप है। जो लोग श्रीमद् भागवत गीता का पाठ करते हैं उन्हें भगवान की कृपा प्राप्त होती है और श्रीमद् भागवत गीता का पाठ करने वाले व्यक्ति को सभी सुखों की प्राप्ति भी होती है.

तुलसी की देखभाल करें

आमतौर पर सभी घरो में तुलसी का पौधा देखने को मिल ही जाता है. घर में तुलसी का पौधा होना भी लाभदायक होता है इसके अलावा यह पौधा स्वास्थ की दृष्टि से भी काफी अच्छा माना जाता है. घर में तुलसी का पौधा होने से घर के आसपास की नकारात्मक ऊर्जा खत्म होती है और सकारात्मक ऊर्जा बढ़ती है। साथ ही भगवान की कृपा भी प्राप्त होती है.

Advertisements

 

ब्राह्मण का सम्मान करें

ब्राह्मण हमेशा से ही आदरणीय माने गए हैं कहा जाता है की इनका सम्मान करने से व्यक्ति को सभी सुखों की प्राप्ति होती है तथा व्यक्ति के जीवन में आने वाले सभी सुख समाप्त हो जाते हैं. इसलिए हमेशा ब्राह्मण का सम्मान करें.

गाय की सेवा करें

हिन्दू समाज में गाय को गौ माता भी कहा जाता है इसलिए गाय की सेवा करना बहुत ही शुभ माना गया है. इसके अलावा यह भी कहा जाता है की जिन घरों में गाय होती है, वहां सभी देवी-देवता वास करते हैं जिससे व्यक्ति के अनेक दुःख भी सुख में बदल सकते हैं.

Advertisements

 

जाने कौन से चीजे हैं जिन्हें बिना संकोच के ले लेना चाहिए Top Things to Let Go to Live a Happy Life

कुछ चीजे जिन्हें बिना संकोच किये ही ले लेना चाहिए How to be happy in life always

हिंदू धर्म में कई ऐसी मान्यताये हैं जो कई वर्षो से मानी जाती हैं. मनुस्मृति में कुछ ऐसी बातो के बारे में बताया गया है जो हमारे सुखी जीवन के लिए लाभदायक साबित हो सकती हैं इसके अलावा इस ग्रंथ में जीवन को सुखी व संस्कारवान बनाने के अनेक सूत्र बताए गए हैं। मनुस्मृति में बताया गया है

Advertisements

 

की यदि कही पर व्यक्ति को ये 6 चीजे दिखाई दें तो उन्हें तुरंत ले लेना चाहिए. इससे व्यक्ति को कई फायदे हो सकते हैं. तो आइये जानते हैं कि किन 6 को बिना संकोच किए लेने की कोशिश करना चाहिए।

रत्न (Gemstone)

ये बात तो सभी लोग जानते हैं की रत्न कई प्रकार के होते हैं. जैसे- मोती, पन्ना, माणिक, मूंगा आदि तथा ये रण बहुत ही मूल्यवान होते हैं. अपने देखा होगा की कोयले की खान व समुद्र की तलहटी को साफ-स्वच्छ स्थान नहीं माना जाता है लेकिन फिर भी इस स्थान में बेशकीमती रत्न होते हैं. इसलिए मनुस्मति में कहा गया है की जहां भी आपको रत्न मिले तो तुरन्त ले लें.

Advertisements

 

ज्ञान (Knowledge)

मनुस्मृति में बताया गया है की जहां भी आपको ज्ञान यानी की विद्या मिले तो उसे तुरन्त ले लेना चाहिए. अधिक ज्ञान होने के कारण व्यक्ति को कुछ भी पाना ज्यादा कठिन नहीं रह जाता. इसलिए जिस किसी भी व्यक्ति से, चाहे वो अच्छा हो या बुरा उसे यदि अधिक ज्ञान है तो उससे ज्ञान लेने में संकोच नहीं करना चाहिए।

धर्म (religion)

धर्म का वास्तिविक अर्थ धारण करना अर्थात जहां भी आपको किसी धर्म के बारे में सिखने को कुछ मिलता तो उसे तुरन्त ले लेना चहिये. धर्म जैसे पूरी ईमानदारी से अपने परिवार का पालन-पोषण करना व हमेशा सच बोलना भी धर्म का ही एक रूप है। इसलिए मनुस्मृति में बताया गया है की जहां कहीं से भी हमें सादा जीवन-उच्च विचार जैसे सिद्धांत मिले, उसे ग्रहण करने में संकोच नहीं करना चाहिए।

Advertisements

 

पवित्रता (Purity)

पवित्रता का संबंध आचार-विचार, व्यवहार व सोच से है। कहा जाता है की जिस व्यक्ति के अच्छा व्यवहार व अछि सोच होती है वे व्यक्ति हमेशा सफलता को प्राप्त करता है तथा एक सुखी जीवन व्यतीत करता है. इसलिए मनुस्मृति में बताया गया है की जहां व्यक्ति को अच्छे विचार मिले  तुरंत ग्रहण कर लेना चाहिए।

उपदेश (preaching)

जहां भी आपको अच्छे उपदेश सुनने को मिले जो की जीवन को सफलता के शिखर तक ले के जाने वाले हो तो ऐसे उपदेश को बिना संकोच लिए ग्रहण करे.

Advertisements

 

किसी संत का उपदेश आपको नया रास्ता दिखा सकता है। जिससे आपके जीवन की तमाम मुश्किल आसानी से समाप्त हो सकती है.

अलग-अलग प्रकार के शिल्प (Art)

शिल्प का शाब्दिक अर्थ कला से है। मनुस स्मृति में बताया गया है की  जहां कहीं से भी या जिस किसी भी व्यक्ति से जो कला मिले, उसे बिना किसी संकोच से सीखने की कोशिश करनी चाहिए। अलग-अलग प्रकार की कला का ज्ञान होने के कारण यही कला आगे जाकर आपके जीवन की आजीविका बन सकती है या आपको प्रसिद्धि दिला सकती है और आपका जीवन खुशियों से भर सकता है.

Advertisements

 

कभी ना छोड़े इन तीन कामो को अधूरा Top Tips to Live a Happier Life

कभी अधूरा ना छोड़े इन 3 काम को Easy Ways to Live a Happy Life

गरुण पुराण में कई ऐसी बाते बताई गयी हैं जिनका यदि सही प्रकार से पालन किया जाया तो व्यक्ति का जीवन सुखमय बन सकता है. गरुड़ पुराण एक ऐसा ही ग्रंथ हैं जिससे हमें जीवन से जुड़ी अनेक गुप्त बातो के बारे में अनुमान हो जाता है तथा व्यक्ति को इन बातो का ज्ञान होना बहुत ही जरुरी होता है

Advertisements

 

जिससे व्यक्ति आसानी से एक सुखी जीवन व्यक्ति कर सकता है. गरुड़ पुराण में 3 ऐसे काम बताए गए हैं, जिन्हें अधूरा छोड़ने पर भविष्य में परेशानियों का सामना करना पड़ता है। तो आइये जानते हैं कौन से हैं ओ तीन काम जिन्हें अधूरा नही छोड़ना चाहिए.

ऋण या उधार वापस करना बिलकुल ना भूले

यदि अपने किसी से उधर धन लिया है तो उसी सही समय में वापस करना बिलकुल ना भूले. यदि उधर लिए हुआ धन अपने पूरा वापस नहीं किया तो वह पुन: ब्याज के कारण बढ़ने लगता है। उधार लिए गए धन के कारण रिश्तों में दरार पड़ने की स्थिति भी बन सकती है. ऐसी स्थिति से बचने के लिए ऋण का शत-प्रतिशत निपटारा जल्दी से जल्दी कर देना चाहिए।

Advertisements

 

बीमारी पूरी तरह से समाप्त कर देना चाहिए

यदि किसी व्यक्ति को किसी प्रकार की बीमारी है तो उस बीमारी को दवाइयों के सेवन से पूरी तरह से समाप्त कर देना चाहिए.  जो लोग पूरी तरह स्वस्थ न होते हुए भी दवाइयां लेना बंद कर देते हैं, वे भविष्य में और अधिक बीमार हो सकते हैं। पुन: लौटकर आने वाली बीमारियां और अधिक खतरनाक हो सकती है। इसलिए बिमारी को कभी नजरअंदाज ना करे.

आग पूरी तरह से ही बुझा देना चाहिए

कब भी कही आग लगे तो उसे पूरी तरह से ही बुझा देना चाहिए. ये बात तो सभी लोग जानते हैं की यदि आग की एक छोटी से चिंगारी भी रह गई तो वह पुन: बड़ी आग में बदल सकती है। इससे जान और माल को नुकसान पहुंचा सकता है। इसलिए यदि कहि आग लगे हुयी दिखे तो उसे पूरी तरह से बुझा देने में ही समझदारी होगी.

Advertisements