Category Archives: अनोखे घरेलू टिप्स

इन तरीकों से बढ़ाये अपने फ़ोन की मेमोरी स्पेस Phone storage internal memory full solution tips

मोबाइल मेमोरी स्पेस को कैसे बढ़ाये Increase Internal Memory of your smartphone

अपने स्मार्टफोन में सबसे ज्यादा आपको जिस समस्या का सामना करना पड़ता है वो है फ़ोन की मेमोरी स्पेस का। स्मार्टफोन इस्तेमाल करने वाले सभी यूजर्स अपने फ़ोन में अपने काम की कई ऐप्स इन्स्टॉल करते हैं।

Advertisements

 

ये सभी ऐप्स फोन की इंटरनल मेमोरी में इन्स्टॉल होती है, जिसके चलते फोन का मेमोरी स्पेस कम हो जाता है। ऐसे में कोई और ऐप इनस्टॉल करने के लिए स्पेस नहीं बचता। ऐसी स्थिति में यूजर्स को नए ऐप्स इन्स्टॉल करने के लिए पुराने ऐप्स डिलीट करने पड़ते हैं। आपके साथ भी ऐसी समस्या आ रही है तो इसका समाधान आसानी से किया जा सकता है। आइये हम आपको बताते हैं कुछ ऐसे आसान उपाय जिन्हे अपनाकर आप अपने फ़ोन की मेमोरी स्पेस को कई गुना बढ़ा सकते हैं।

Advertisements

 

जिन एपो का आप प्रयोग नहीं करते है उन्हें अन-इंस्टॉल कर दें-

यदि आपके फ़ोन में स्पेस कम है या नहीं है तो सबसे पहले आप अपने स्मार्ट फोन से उन एप्स को अन-इनस्टॉल कर दें जिन्हें आप आजकल प्रयोग नहीं कर रहे है, फोन में बहुत सारे एप स्थान तो घेरते ही  हैं साथ ही फोन की गति को भी धीमा भी कर देते है। इसलिए ऐसे अनावश्यक  एप्प्स को हटा दें।

 कुछ एप्स को अपने एसडी कार्ड में मूव कर दें –

अपने फ़ोन की इंटरनल मेमोरी को बढ़ाने के लिए अपने फोन से कुछ एप्स को अपने मेमोरी कार्ड में डाल सकते हो जिससे आपके फोन की इंटरनल मेमोरी में स्पेस खाली हो जाएगी। इसके लिए उस एप की सेटिंग में जाकर उस एप को मूव कर सकते हैं। इससे आपके फ़ोन में काफी स्पेस बच जायेगा।

Advertisements

 

अपने फ़ोन की टेम्परेरी फाइल को डिलीट कर दें –

 हमारे फ़ोन में कई ऐसी टेम्परेरी फाइल्स होती हैं जो हमारे फ़ोन में स्पेस घेरे रहती हैं। जिससे हमारे फ़ोन का स्पेस जल्दी भर जाता है। इसलिए ऐसे अनचाहे डाटा को हटा ले यह भी आपके फ़ोन स्पेस बढ़ाने का अच्छा तरीका है।

फ़ोन लेते समय इंटरनल स्टेरेज चेक कर लें –

फ़ोन लेते समय हमेशा ये ध्यान रखे की आपके फ़ोन की मेमोरी कम से कम 16जीबी की तो होनी ही चाहिए। क्योकि फ़ोन का  यूज करने से हम धीरे धीरे उसमे कई एप डाऊनलोड कर लेते हैं जिससे हमारा फ़ोन धीरे धीरे हैंग करने लगता है और फिर हमे पछताना पड़ता है। 

Advertisements

 

यदि एप अनइनस्टॉल न हो तो उनके अपडेट अनइंस्टॉल कर उन्हें डिसेबल कर दें –

हमारे फ़ोन में कई ऐसे एप होते है जो फोन के साथ ही इनस्टॉल होकर आये होते हैं और जिनकी एप सेटिंग में अन-इनस्टॉल करने का विकल्प ही नहीं होता है। अगर आप ऐसे किसी एप को प्रयोग नहीं कर रहे हैं तो उसकी सेटिंग में जाकर उसके अपडेट अन-इनस्टॉल कर दें फिर उस एप को डिसएबल कर दें, इससे भी आपके फ़ोन में काफी स्पेस बना रहेगा।  

स्मार्टफोन में इंटरनल स्टोरेज बढ़ाने के लिए एप्प्स का प्रयोग –आजकल कई ऐसे एप हैं जिनकी सहायता से हम अपने फ़ोन में स्पेस बढ़ा सकते हैं जिनका प्रयोग हम उन एप्प्स को एसडी कार्ड में मूव करने के लिए कर सकते हैं ताकि हमारे फ़ोन में अधिक से अधिक स्पेस बना रहे। 

मेमोरी क्लीनअप एप के प्रयोग से जंक डाटा डिलीट करें –

इन सभी उपायों के अलावा जो सबसे महत्वपूर्ण उपाय है वो है मेमोरी क्लीन अप। आजकल कई ऐसे एप हैं जिनकी मदद से हम अपने फोन की मेमोरी को क्लीन कर सकते हैं। ये ऐसे एप होते हैं जो आपके मोबाइल पर जमा होने वाले लॉग्स, जंक डाटा और उन सभी डाटा को हटा देता है, जो अन्य एप द्वारा आपके मोबाइल पर डाउनलोड किया गया है पर अब उसका आपके लिए कोई उपयोग नहीं हो रहा है।

Advertisements

 

फ्रिज खरीदते समय ध्यान रखे ये बातें which is the Best Refrigerator Fridge Buying Tips

नया फ्रिज लेने से पहले इन बातों का रखे ध्यान Best Refrigerators Fridge Buying tips in Hindi

आज के समय में हर घर में फ्रिज का प्रयोग किया जा रहा है खासतौर पर गर्मियों के दिनों में सभी घरो में फ्रीज की डिमांड बहुत बड़ जाती है. हमारी सभी जरूरतों में ही एक रेफ्रीजिरेटर भी है. रेफ्रीजिरेटर के द्वारा ही खाना और सब्जिया ताज़ी रहती है.

Advertisements

 

जिसके कारण हर कोई रेफ्रीजिरेटर खरीदना चाहता है. आज बाजार में बहुत से सिंगल डोर और डबल डोर फ्रिज उपलब्ध है. लेकिन हम आमतौर पर एक अच्छे और बेहतर फ्रीज खरीदने की सोचते है. आज हम आपको कुछ ऐसी महत्वपूर्ण बाते बताएँगे जिन्हे टीवी खरीदते समय ध्यान में रखना काफी जरूरी है.

जब भी आप बाजार में फ्रीज लेने जाये तो सबसे पहले उस जगह की हाइट और जगह नाप लें जहाँ पर आपको फ्रिज रखना है.

Advertisements

 

जगह के हिसाब से ही आप अपने लिए एक बेहतर फ्रिज का चुनाव करे. साथ ही, रेफ्रीजिरेटर लेने से पहले अपने घर के दरवाजे की लेंथ भी नाप ले ताकि फ्रिज को आसानी से घर के अंदर ले जाया सके.

फ्रिज खरीदने से पहले अपनी जरूरत और फैमिली के सदस्यों को भी ध्यान में रखना काफी जरूरी होता है.

अगर आपके फैमिली में 3 से 4 सदस्य है तो आपके लिए 150 लीटर और 170 लीटर कैपेसिटी वाला फ्रिज बेहतर रहेगा और अगर आपके फैमिली में सदस्यों की संख्या ज्यादा है तो ऐसे में 190 लीटर कैपेसिटी वाला फ्रिज लेना आपके लिए बेहतर ऑप्शन रहेगा.

रेफ्रीजिरेटर लेते समय रेफ्रीजिरेटर की स्टोरेज को ध्यान में जरूर रखे. अगर आप एक साथ ही ज्यादा सब्जिया लाते है तो आपको ज्यादा स्टोरेज वाला रेफ्रीजिरेटर खरीदना सही रहेगा. इसलिए रेफ्रीजिरेटर खरीदे समय फ्रीज की स्टोरेज जानी काफी जरूरी है.

Advertisements

 

फ्रिज में कूलिंग कंट्रोलर के साथ ही ह्यूमिडिटी कंट्रोलर होना भी जरूरी है इस फीचर्स के चलते फ्रिज में रखे सामान में में ह्यूमिडिटी यानि की मॉस्चर नहीं आती.

रेफ्रिजरेटर खरीदने से पहले एक बार ऑनलाइन और ऑफलाइन जरूर सर्च जरूर करले. कई बार लोकल रिटेलर्स स्पेशल ऑफर्स, वारंटी और रिपेयर पैकेजेस देते हैं इससे आपको सही क्वालिटी का आइडिया भी मिल जाएगा. और इससे आप अपने लिए एक सबसे अच्छा और बेहतर फ्रीज खरीद सकते है.

Advertisements

 

अगर फ्रीज खरीदने के लिए आपका बजट कम है या आप आप पुराना मॉडल खरीदने की सोच रहे हैं तो ध्यान रखे कि ये मॉडल्स एनर्जी एफिसिएंसी के मामले में 20 प्रतिशत कम होते हैं. इसीलिए फ्रिज खरीदने से पहले एक बार फ्रिज की “Energy Star” रेटिंग जरूर चेक कर लें.

फ्रीज हमेशा वहीं खरीदे जिसमे एयर फिल्ट्रेशन सिस्टम की सुविधा हो, एयर फिल्ट्रेशन सिस्टम के द्वारा आपका फ्रिज हमेशा फ्रेश रहता है.

फ्रीज खरीदते वक्त इस बात का भी ध्यान रखे कि इस फ्रीज के प्रयोग से ज्यादा बिजली की बर्बादी ना हो इसके लिए आप एनर्जी सेविंग मॉडल्स वाले फ्रिज भी खरीद सकते है ये फ्रीज 20% तक बिजली बचाते है.

Advertisements

 

फ्रीज खरीदने से पहले फ्रीज का रिव्यु जरूर चेक कर ले. कुछ कंपनियों ने कूलिंग फीचर को काफी स्मार्ट बनाया है. फ्रीजर और फ्रिज के कूलिंग सिस्टम को अलग रखा है इससे पावर कट होने पर भी फ्रीजर का तापमान मेनटेन रहता है. इसीलिए फ्रिज खरीदने से पहले अच्छे कंपनी और ब्रांड की जानकारी लेना बहुत जरूरी है.

अगर आप अपने घर में बर्फ का ज्यादा प्रयोग करते है तो आपके लिए डबल डोर रेफ्रिजरेटर लेना एक बेस्ट ऑप्शन रहेगा क्योकि डबल डोर रेफ्रिजरेटर के अंदर बर्फ जमाने के लिए काफी स्पेस होता है.

फ्रीज खरीदते समय फ्रीज का कलर भी ध्यान में रखे. आजकल मार्किट में कई कलर्स के फ्रिज उपलब्ध  हैं मेटैलिक कलर के साथ ही बेहतर ग्राफिक्स डिजाइन आ गए है फ्रिज का कलर ऐसा चुने जो जल्दी गंदा ना हो इसके लिए आप डार्क कलर के फ्रिज का चुनाव भी कर सकते है.

Advertisements

 

बालों में तेल लगाते समय ना करे गलतियां Hair Oiling and Hair Massage Hair Care Tips Healthy Strong Hair

तेल की मालिश करते समय ना करे ये गलतियां How to apply oil massage hair for healthy hair

खूबसूरती केवल हमारे चेहरे से ही नहीं बल्कि हमारे बालों से भी झलकती हैं. ऐसे में अगर हमारे बाल पतले औऱ रूखे हो तो हमारी पर्सनैलिटी पर काफी बुरा असर पड़ता है। बालों के टूटने और झड़ने का एक सबसे बड़ा और मुख्य कारण बालों पर तेल ना लगाना है.

Advertisements

 

कई लोग बालों में तेल लगाते है लेकिन फिर भी उनके बाल झड़ते है. तेल लगाने के बाद भी बालों का झड़ने का कारण बालों में सही से तेल ना लगाना है. यदि बालों में सही तरीके से तेल ना लगाया जाए तो बालों को कोई फायदा नहीं होता बल्कि  ऐसे में बाल और टूटने लगते है। आज हम आपको तेल लगाने के कुछ आसान और जरूरी उपाए बताएंगे, जिनसे आपके बाल टूटेगें नहीं ब्लकि मजबूत बनेंगे।

बिना सुलझाए ना लगाए तेल – कई लोग उलझे बालों में ही तेल लगाने की गलती कर बैठते है जिसके कारण उनके बाल टूटने लगते है.

Advertisements

 

अगर आप भी बालों को बिना सुलझाए तेल की मालिश करते है तो आज ही अपनी इस आदत में बदलाव लाये. बालों में तेल लगाने से पहले बालों को अच्छे से कंघी कर ले.

पूरे बालों में तेल लगाएं – कई लोग तेल सिर्फ स्कैल्प पर ही लगाना जरूरी समझते है. और वे सिर्फ स्कैल्प पर ही तेल से मालिश करते है. जिनसे उनके बाल कमजोर और रूखे पढ़ने लगते है. स्कैल्प के साथ ही तेल को बालों की पूरी लेंथ पर लगाएं। ऐसा करने से आपके बाल अच्छी तरह से नरिश होंगे और मजबूत बनेंगे।

ठंडा तेल ना लगाए – कभी भी बालों में ठंडा तेल लगाने की गलती न करे. सिर में तेल की मालिश करने से पहले हमेशा तेल को थोड़ा गुनगुना कर लें। गुनगुना तेल आपके स्कैल्प में अच्छी तरह सोखकर इसे गहराई से नरिश करता है। इसलिए बालों में तेल हमेशा गुनगुना करके ही लगाना चाहिए.

Advertisements

 

प्रेशर के साथ ना करे मसाज – बालों में तेल लगाने के बाद कभी भी प्रेशर से मसाज करने की भूल ना करें बल्कि हलके हाथों का इस्तेमाल करें।  प्रेशर के साथ सिर की मसाज करने से बाल कमजोर होकर टूटने लगते है. इसलिए सिर में उँगलियों से मसाज करना ही बेहतर रहेगा.

बालों को टाइट ना बांधे – तेल लगाने के बाद कभी भी बालों को टाइट ना बांधे. इसके बजाए हमेशा लूज़ बेंड का ही प्रयोग करे। साथ ही, इस  बात का भी ध्यान रखे कि बालों में तेल से मसाज करने के बाद कम से कम 3-4 घंटे बाद ही बालों को धोएं।

Advertisements

 

हमेशा साथ रखते है रूमाल तो ना करे ये गलतियां Ideas for Folding Pocket Square handkerchief Vastu Tips

साथ हमेशा रखते है रूमाल तो ना करे ये गलतियां Interesting things related to handkerchief

कई लोगो की आदत होती है कि वे अपने साथ हमेशा ही एक रुमाल रखते है. लेकिन क्या आपको मालूम है कि हमेशा जेब में रखे जाना वाला रुमाल व्यक्ति के भाग्य में अच्छा व बुरा प्रभाव डालता है।

Advertisements

 

अगर आप भी हमेशा अपने पास रुमाल रखते है तो आपको रुमाल से जुड़ी 6 बातो का ध्यान अवश्य रखना चाहिए. 

बिना धोए एक ही रुमाल रोजाना प्रयोग ना करे. जेब में हमेशा रखे जाने वाले रुमाल में भी कई तरह की पॉजिटिव और नेगेटिव वॉइस आ जाती है. बिना धुले रुमाल या गंदे रूमाल को जेब में रखने से रुमाल पर मौजूद नेगेटिविटी आप पर बुरा असर डाल सकती है.

Advertisements

 

यदि आप हमेशा ही अपने पास एक रूमाल रखते है तो रुमाल को 4 से 6 बार फोल्ड करके ही  रखे. क्योकि ये अंक कार्य में सफलता और लाभ के लिए शुभ माने जाते है.  ध्यान रखे जेब या पर्स में रखे जाने वाले रुमाल को कभी भी 3 या 5 बार फोल्ड की गलती ना करे, ऐसा करना आपके असफलता का कारण बन सकता है.

Advertisements

 

जेब में हमेशा रखे जाने वाले रूमाल में पेन या पेंसिल से कुछ भी लिखना शुभ नही माना जाता. ऐसा करने से आपका अपने कार्य के प्रति फोकस हट सकता है. इसलिए रूमाल पर पैन या पेंसिल से कुछ भी लिखने से हमे बचना चाहिए।

कभी भी अपना अपना रुमाल किसी भी अन्य व्यक्ति को देने की भूल ना करे और ना ही खुद किसी भी व्यक्ति के रुमाल का इस्तेमाल करे. रुमाल से व्यक्ति की सभी पॉजिटिव और नेगेटिव एनर्जी जुडी होती है. ऐसे में दूसरे व्यक्ति को रुमाल देना या उनसे लेना आपको भारी नुकसान करा सकता है.

Advertisements

 

जेब या पर्स में रखे जाना वाला रुमाल हमेशा लाईट रंग का ही चुने. ज्यादा डार्क कलर के रुमाल रखना अशुभ माना जाता है. क्योकि इससे मन अशांत रहता है और साथ ही आपको लगातार ख़राब परिस्थितियों का सामना करना पड़ सकता है.

जिन रूमालों को आप हमेशा ही अपनी जेब में रखते है उन्हें लेकर याद रखे कि उन रूमालों में ज्यादा छेद ना हो. और ना ही इसी प्रिंट वाली रुमाल भी साथ में ना रखे, जिस पर ज्यादा डिजाईन हो.

Advertisements

 

माइक्रोवेव ओवन खरीदते समय जरूर जान ले ये बातें Microwave buying easy tips and suggestion

माइक्रोवेव ओवन के प्रकार Types of microwave oven

माइक्रोवेव ओवन खाना पकाने का बेहद ही आसान तरीका है समय के साथ-साथ माइक्रोवेव ओवन की डिमांड बढ़ती जा रही है माइक्रोवेव ओवन को सामान्यतः माइक्रोवेव कहा जाता है ये एक इलेक्ट्रोमैग्नेटिक वेव है, कई लोगो के मन में ये जिज्ञासा होती है की कौन सा माइक्रोवेव ओवन सबसे बेहतर होता है.

Advertisements

 

Solo Microwave or Basic Microwave- इसमें खाना बनाया और गर्म किया जा सकता है और साथ ही फ्रोजन फूड को डिफ्रोस्ट किया जा सकता है. इनकी कीमत भी कम होती हैं.

Microwave with Grill- ग्रिल सुविधा वाले माइक्रोवेव में खाने को ग्रिल किया जाता है.

Microwave with Grill and Convection- कन्वेक्शन माइक्रोवेव खाना बेक करने के काम आता है. कन्वेक्शन माइक्रोवेव में अन्दर के तापमान को एक जैसा रखने के लिये हवा फैंकने के लिये फैन की सुविधा होती है जिनसे पकाये जा रहे खाने को एक जैसा तापमान मिलता है. कन्वेक्शन माइक्रोवेव खाने को क्रिस्प करने के लिये भी उपयोग में लाये जाते है. आजकल बाजार में दो तरह के माइक्रोवेव उपलब्ध है solo microwave एवं Microwave with Grill and Convection.

माइक्रोवेव खरीदने से पहले ध्यान देने वाली बातें

  • सबसे पहले आप ये देख ले की आपकी आवश्कता क्या हैं अपनी जरूरत के हिसाब से आपको कौन सा माइक्रोवेव ओवन चाहिए.
  • माइक्रोवेव ओवन खरीदने से पहले अपना बजट जरूर ध्यान रखे.
  • अगर आप माइक्रोवेव का इस्तेमाल बेकिंग के लिये नहीं करना चाहते है या फिर आप अलग से ओवन का प्रयोग करना चाहते हैं तो आपके किये Solo microwave oven बेहतर ऑप्शन हो सकता है.
  • अगर आप बेकिंग के लिये अलग से दूसरे ओवन का इस्तेमाल नहीं करना चाहते है तो आपके लिए Microwave with Grill and Convection एक बेहतर ऑप्शन हो सकता है.
  • Microwave with Grill and Convection ओवन ज्यादा अच्छा होता है क्योकि यह डिफ्रोस्टिंग, रिहीटिंग, बेकिंग, ग्रिलिंग आदि सारे काम कर सकता है.

    Advertisements

     

  • माइक्रोवेव का साइज कितना हो ये आपकी जरूरत और आपके घर के मेंबर पर डिपेंड करता है चार सदस्यों तक के परिवार के लिये 18 या बीस लीटर तक का माइक्रोवेव लिया जा सकता है. प्रति सदस्य के लिये आप दो लीटर माइक्रोवेव का साइज बढा सकते हैं.
  • सामान्यतः कंपनिया माइक्रोवेव में 2 से 5 साल की गारंटी देती हैं. वैसे माइक्रोवेव इतनी आसानी से खराब नहीं होते लेकिन फिर भी ओवन खरीदने से पहले देख ले कि आपके शहर में उस कंपनी का सर्विस सेन्टर है या नहीं.
  • माइक्रोवेव का कवर हमेशा ऐसा चुने जिसमें आपको अन्दर पकता खाना अच्छी तरह से दिखता रहे और साथ ही इसकी बनाबट एसी हो कि इसे आप इसे सफाई करना आसान हो.
  • माइक्रोवेव खरीदते समय इसके साथ आने वाले बर्तन आदि का सैट लेना न भूले.

    Advertisements

     

  • माइक्रोवेव ओवन खरीदने से पहले एक बार मार्केट सर्वे और ऑनलाइन सर्वे करना ना भूले ताकि आप एक बेहतर ओवन खरीद सके.
  • माइक्रोवेव ओवन खरीदने से पहले इसकी इंटरनल कैपेसिटी जरूर देख लें अधिकतर माइक्रोवेव ओवन की इंटरनल कैपेसिटी 1 क्यूबिक से कम होती है.
  • माइक्रोवेव ओवन खरीदने से पहले इसकी स्पीड चेक करना न भूले ज्यादा वेटेज होने से खाना जल्दी बनता है.
  • आप टर्न टेबल माइक्रोवेव ओवन भी खरीद सकते है ऐसे माइक्रोवेव रूकते नही है और खाने को अपने आप पलटता रहता है.
  • मेटल रैक वाला माइक्रोवेव ओवन बेहतर होता है इसमें मेटल रैक होने के कारण खाना नीचे नही लगता है.
  • माइक्रोवेव ओवन लेने से पहले इसमें ऑटोमैटिक सेंसर चेक कर ले ऑटोमैटिक सेंसर होने के कारण खाना बनाने के बाद माइक्रोवेव अपने आप बंद हो जाएगा.
  • माइक्रोवेव लेने से पहले इसकी पावर रेटिंग जरूर चेक कर ले ज्यादा वाट की पावर रेटिंग होने से खाना जल्दी गरम होता है.
  • माइक्रोवेव लेने से पहले माइक्रोवेव का कंट्रोल पैनल जरूर चेक कर ले
  • माइक्रोवेव ओवन में मल्टी स्टेज कुकिंग एक बहुत अच्छा फीचर होता है माइक्रोवेव लेने से पहले इस फीचर को चेक कर ले.
  • ध्यान रखे कि माइक्रोवेव लेने से पहले माइक्रोवेव में चाइल्ड सेफ्टी लॉक देखना ना भूले.

बहुत से माइक्रोवेव में शार्ट कट की आती है जिन्हें मेन्यूस कहते है इसमें खाना जल्दी बन जाता है माइक्रोवेव खरीदते समय ये फीचर देखना ना भूले.

Advertisements

 

कैसे बढ़ाये स्मार्टफोन की स्टोरेज increase mobile internal storage easy tips in hindi

क्या करे फ़ोन की मेमोरी बढ़ाने के लिए what to do for increase mobile internal storage  

स्मार्टफोन आज के समय हैं तो सभी के पास पर इनके साथ सबसे बड़ी परेशानी ये कि है अपनी पसंद की कुछ ऐप्स डाउनलोड करते ही इंटरनल मेमोरी फुल हो जाती है औऱ उसके बाद हम कुछ भी अपने फ़ोन पर डाउनलोड नहीं कर सकते और ना ही फोटोज या वीडियो अपने फ़ोन में रख सकते हैं।

Advertisements

 

इसका गलत प्रभाव ये है कि फोन हैंग होने लगता है। आज हम आपको बताएंगे कि आपके कैसे अपने स्मार्टफोन कि इंटरनल स्टोरेज बड़ा सकते हैं.

फालतू के एप्प्स को हटा दें (Remove extra waste apps) –

सबसे पहले तो आप मोबाइल से उन सभी एप्स को अन-इनस्टॉल कर दें जिन्हें आप कभी भी यूज़ नहीं करते हैं, फोन में फालतू के एप्प्स स्थान तो घेरते ही है और साथ ही इसकी वजह से फ़ोन हैंग भी होने लगता है.

एप अनइनस्टॉल होने पर क्या करें (What to do if the app is not uninstalled) –

अगर फ़ोन से एप अनइनस्टॉल ना हों तो उनके अपडेट अनइंस्टॉल कर उन्हें डिसएबल कर दें। आपके फ़ोन में बहुत से एप ऐसे होते हैं जो फोन के साथ ही इनस्टॉल होकर आते हैं और जिनकी एप सेटिंग में अन-इनस्टॉल करने का विकल्प ही नहीं होता.

Advertisements

 

एप्स को मेमोरी कार्ड में डालदें (Put apps into memory card) –

स्मार्टफोन के एप्प्स को आप फोन की मेमोरी से “मेमोरी कार्ड” में भी स्थान्तरित कर सकते हो, इससे आपके फोन की इंटरनल मेमोरी में काफी जगह खली हों जाएगी, इसके लिए us एप की सेटिंग में जाकर ‘Move to SD Card’ करें.

फोन की कैच मेमोरी खाली कर दें (Empty the phone’s catch-away memory) –

आपके फोन में कुछ मेमोरी पर कई एप अपना डाटा अस्थाई रूप से स्टोर करते है, इस डाटा को आप जब चाहे हटा सकते है, इससे फोन में कुछ और मेमोरी स्पेस भी खाली हो जाता है| इसके लिए सबसे पहले “Settings में जाए फिर Storage और फिर Internal Storage” पर जाकर “Cached Data” करें.

एप्प्स की मदद से (With the help of apps) –

आजकल बहुत सारे एप्प्स ऐसे हैं, जिनकी मदद से आप अपने फ़ोन की इंटरनल स्टोरेज बड़ा सकते हैं. ये एप्प्स आपके मोबाइल पर जमा होने वाले लॉग्स, जंक डाटा और उन सभी डाटा को हटा देता है, जो अन्य एप द्वारा आपके मोबाइल पर डाउनलोड किये गए हैं.

क्लियर हिस्ट्री करें (Clear History) –

फोन के होम बटन को लम्बे समय तक दबाकर रखने से आप जान सकते हैं कि कितने ऐप्स बैकग्राउंड में चल रहे हैं। इन्हें बाईं या दाईं ओर स्वाइप करने हटाया जा सकता है.

Advertisements

 

कैसे पाएं लो बीपी की समस्या से छुटकारा how get rid from blood pressure health advice

लो बीपी कंट्रोल करने के आसान घरेलू उपचार hoe remedies for Low BP problem

बहुत से लोगो को आजकल बीपी लो होने की समस्या होती है. बीपी लो हो या हाई दोनों ही आपके लिए खतरनाक शाबित हो सकते हैं। बीपी शरीर में रक्‍त का संचरण होने की प्रक्रिया होती है। कभी – कभी शरीर में यह संचारण कम हो जाता है लो बीपी के नाम से जाना जाता है।

Advertisements

 

आजकल छोटी उम्र में भी लो बीपी होने लगा है. कितने ही इलाज करें पर इससे निजात नहीं मिलता. आज हम आपको बताएंगे अगर आपको भी है लो बीपी टी इन तरीको का प्रयोग जरूर करें.

कैसे पहचाने की आपका बीपी लो है

  1. चक्कर आना या बेहोशी हो जाना,
  2. ज्यादा पसीने का आना.
  3. धुंधला दिखाई देना या आँखों के आगे अँधेरा आ जाना,
  4. घबराहट होना,
  5. सीने मे दर्द होना या दिल की धड़कनो का तेज हो जाना,
  6. हाथ पैरो का ठंडा पड़ जाना.
  7. थोड़ा सा भी काम करने पर ह्रदय का जोरो से धड़कना.

    Advertisements

     

ज्यादा नमक लें (Get more salt) –

अगर आपको लो बीपी की समस्या हो तो ज्यादा नमक खाएं, नमक में सोडियम मौजूद होता है, जो ब्‍लड प्रेशर बढ़ाता है। लो ब्लड प्रेशर में एक गिलास पानी में 1 चम्मच नमक मिलाकर पीने से भी फायदा होता है।

कॉफी है फायदेमंद (Coffee is beneficial) –

लो बीपी के लिए कॉफी भी बहुत फायदेमंद होती है, कॉफी के सेवन के लिए पहले यह जरूर जांच ले कि आपका ब्‍लड प्रेशर कम ही हो। आपको रोजाना सुबह एक कप कॉफी जरूर पीना चाहिए।

किशमिश भी है फायदेमंद (Raisin is also beneficial) –

बीपी लो होने पर 10-15 दाने किशमिश के रात में भिगो दें और सुबह खाली पेट इसका सेवन करें। जिस पानी में आपने किशमिश भिगाये थे आप उस पानी को भी पी सकते हैं।

तुलसी के पत्तो का सेवन (Basil Leaves) –

प्रतिदिन सुबह 3-4 तुलसी के पत्तों का सेवन करने से भी लो ब्लड प्रेशर को काफी हद तक कंट्रोल किया जा सकता है। रोज तुलसी के कुछ पत्तो को चबाकर खाये या फिर चाय में डालकर पियें.

Advertisements

 

निम्बू का पानी (Lemon water) –

निम्बू के पानी में हल्का सा नमक और थोड़ा सा चीनी डालकर पीने से लो बीपी में काफी फायदा मिलता है। इससे शरीर को एनर्जी तो मिलती ही है साथ ही लीवर भी अच्छे से काम करता है।

लहसुन का उपयोग (Use of Garlic) –

लहसुन निम्न रक्तचाप के रोगियों के लिये बहुत ही लाभदायक होता है इसका प्रतिदिन सेवन करने से भी लो ब्लड प्रेशर की समस्या में आराम होता है।

छुहारे और खजूर (Museums and dates) –

रात के समय में 2-3 छुहारे दूध में उबालकर पीने या फिर खजूर खाकर दूध पिने से भी निम्न रक्तचाप में सुधार होता है।

Advertisements

 

व्यायाम करते रहना चाहिए (Exercise is necessary) –

व्यायाम स्वस्थ्य शरीर के लिए सबसे ज्यादा जरुरी है, इसलिए लो ब्लड प्रेशर के मरीजो के लिए पैदल चलना, साईकिल चलाना और तैरना जैसे व्यायाम भी फायदेमंद होते हैं, सतह ही भोजन भी पोषक तत्वोँ से भरपूर होना चाहिए.

Advertisements

 

मोबाइल स्क्रीन को टूटने से बचाने के उपाय How to fix a broken, cracked smartphone screen tips

जानें कैसे बचाएं फोन को स्क्रेच होने से How to save the phone with scratches

अधिकतर देखा गया है की लोगो के फ़ोन की स्क्रीन टूट जाती है.अक्सर हाथ से फोन छूट कर गिर जाता है। ऐसे में कई बार बच भी जाता है लेकिन ज्यादातर मामलों में स्क्रीन टूट ही जाती है। क्या आप जानते हैं आपके स्मार्टफोन की सिक्योरिटी कितनी जरुरी है.

Advertisements

 

हर डिवाइस की सुरक्षा की तरह ही नए स्मार्टफोन  की सुरक्षा भी जरुरी है आज के समय में हमारे सभी काम मोबाइल से हो रहे हैं ऐसे में यदि किसी कारणवश हमारा फ़ोन टूट जाये तो नुक्सान के साथ-साथ हमारा डाटा भी चला जाता है इसलिए फ़ोन की स्क्योरिटी बहुत जरुरी है। आज हम आपको बताएंगे की फ़ोन की स्क्रीन को टूटने से कैसे बचाया जा सकता है।          

Advertisements

 

कई बार मोबाइल फ़ोन हमारे हाथ से छुट कर फर्श पर गिर जाता है या किसी कारण पॉकेट में डिस्प्ले टूट जाती है और जब स्मार्टफोन की डिस्प्ले या टच एक बार टूट जाये तो नई डिस्प्ले अच्छे से चल नहीं पाती है इसलिए एक अच्छी क्वालिटी का स्क्रीन गार्ड लगवाएं, फ़ोन की सिक्योरिटी के लिए टेम्पर्ड ग्लास स्क्रीन प्रोटेक्टर सबसे अच्छा उपाय है ये ग्लास स्क्रीन प्रोटेक्टर की तरह है, इससे आपके फ़ोन की स्क्रीन सेफ रहेगी।

आपके फ़ोन की स्क्रीन स्क्रैच या टूटने से बच  जाएगी। ये बाजार में आपको आसानी से मिल जायेंगे या फिर आप इसेऑनलाइन के जरिये भी मंगा सकते है।

स्मार्ट फ़ोन में बैक कवर लगवाने से फ़ोन के पिछले हिस्से की सिक्योरिटी बढ़ जाती है यदि आपका मोबाइल अचानक गिर जाये तो बैक कवर आपके मोबाइल की बॉडी की सुरक्षा करता है और मोबाइल फ़ोन को स्क्रैच या डैमेज होने से बचाता है.

Advertisements

 

अगर आप अपने फ़ोन को आकर्षक बनाना चाहते हैं तो एक अच्छा सा बैक कवर उपयोग कर सकते हैं आजकल मार्किट में बहुत से डिज़ाइन वाले बैक कवर और फ्लिप कवर मिल जाते हैं। आप उनका इस्तेमाल अपने फ़ोन में कर सकते हैं इससे मोबाइल में खरोंच भी नहीं लगती और फ़ोन लम्बे समय तक नया जैसा लगता है।

आप अपने फोन की स्क्रीन को सुरक्षित रखने के लिए अपने फ़ोन में ग्लास स्क्रीन प्रोटेक्टर भी लगा सकते हैं.

Advertisements

 

इसके प्रयोग से आपके मोबाइल की स्क्रीन सेफ रहेगी, इससे फ़ोन गिरने पर भी आपके स्क्रीन को कोई नुकसान नहीं होगा।

एक स्मार्टफोन खरीदने के बाद सबसे पहेले अपने फ़ोन का इन्शुरन्स करवा लेना चाहिए आजकल कई कंपनियों के द्वारा स्मार्टफोन का पानी से ख़राब होने, टूटने जाने पर या किसी तकनीकी खराबी के आधार पर इन्शुरन्स किया जाता है ऐसी कोई भी परेशानी होने पर स्मार्टफोन पर होने वाले अनावश्यक खर्च से बचा जा सकता है इसलिए यदि संभव हो तो स्मार्टफोन खासकर बहुत ज्यादा महंगे फ़ोन का इन्शुरन्स जरुर करवाना लेना चाहिए।

Advertisements

 

टीवी खरीदते वक्त ध्यान रखे ये 5 बातें LED LCD Smart TV Best tips for buying a new TV buying guide

टीवी खरीदते समय ध्यान रखे ये बातें These things to know before buying new TV

आजकल बाजार में कई नए तरह के टीवी आने लगे है. पहले के समय में सिर्फ एक ही तरह के टीवी बाजार में  मिलते थे जिससे लोगो को टीवी सेलेक्ट करने में ज्यादा समय नहीं लगता था क्योकि उनके पास और कोई दूसरा ऑप्शन नहीं था.

Advertisements

 

इसलिए वे बाजार में जाकर बिना कुछ सोचे टीवी घर खरीदकर घर ले आते थे. लेकिन आज के समय में कई तरह के टीवी मार्किट में उपलब्ध है. जिनमे से एक सेलेक्ट कर पाना काफी मुश्किल हो जाता है. अगर टीवी खरीदते समय हम विशेष बातों का ध्यान रखे तो हम एक सबसे अच्छा और बेहतर टीवी खरीद सकते है. आज हम आपको कुछ ऐसी महत्वूर्ण बातो के बारे में बताएँगे जिन्हे ध्यान में रखकर अगर टीवी खरीदा जाये तो आप एक बेहरीन टीवी का चयन कर सकते है.  

Advertisements

 

टीवी खरीदते वक्त सबसे पहले हमे टीवी का साइज देखना काफी जरूरी होता है. और आप भी शायद सबसे पहले टीवी का साइज ही ध्यान रखते होंगे. टीवी खरीदते समय टीवी का साइज काफी मायने रखता है लेकिन हो सकता है आपकी पसंद और आपके घर का साइज़ एक दूसरे के अपोजिट हो. लेकिन टीवी उसी साइज का खरीदे जो आपके ड्राइंगरूम या फिर बेड रूम में फिट बैठ सके.

टीवी खरीदते समय दूसरी महत्वपूर्ण बात है बजट. अतः अपने बजट को ध्यान में रखकर ही टीवी ख़रीदे। कई बार हम सेल्समेन की बातो से मोटीवेट होकर महंगा टीवी भी खरीद लेते है. और घर आकर अफ़सोस करते है.

लेकिन ध्यान रखे कि सेल्समेन का काम सिर्फ टीवी बेचने का होता है। वह आपको अपने वहाँ के बेस्ट और ज्यादा महंगे के टीवी दिखायेगा लेकिन आप अपने बजट के हिसाब से ही अपना टीवी का चयन करे.

कई लोग ज्‍यादा ऑफरों और लुक के चक्‍कर की वजह से महंगे टीवी खरीद लेते है. अगर आप भी टीवी खरीदने जा रहे है तो ज्‍यादा ऑफरों और लुक के चक्‍कर में न पड़कर अपनी जरूरत को ध्‍यान में रखें,  जैसे आपके घर के लिए कौन से साइज का टीवी बेहतर रहेगा,

Advertisements

 

टीवी का साउंड कैसा है, टीवी की वांरटी या फिर गांरटी कितनी है इन सभी बातों को ध्यान में रखकर ही एक अच्छे टीवी का चयन करे।

आजकल स्‍मार्टटीवी का जमाना है जिसमें आप मनोरंजन के साथ ही इंटरनेट का मज़ा भी ले सकते है. अगर आपका बजट थोड़ा अधिक है या आप थोड़ा महंगा टीवी खरीदने की सोच रहे है तो साधारण टीवी के साथ स्‍मार्ट टीवी लीजिए. इसमें आप इंटरनेट कनेक्‍टीविटी की मदद से सोशल नेटवर्किंग साइट और यू ट्यूब वीडियो भी देख सकते हैं। इन सभी बातों को ध्यान में रखकर आप अपने लिए एक बेस्ट और बेहतर टीवी खरीद सकते है.

Advertisements

 

सुबह उठते ही करे ये काम नहीं होगी धन की कमी How to Attract Money Wealth Fast

ध्यान रखें ये बातें नही होगी धन की कमी How to attract money Wealth

हमारी दिनचर्या सुबह नींद खुलने के साथ ही शुरू हो जाती है. अगर हमारी सुबह की शुरुआत अच्छी होती है तो हमे पूरा दिन अच्छा लगता है और हमारा मन हर काम में लगता है और अगर हमारी सुबह की शुरूआत ही अच्छी नहीं होती.  तो हमे पूरा दिन मुश्किलो से भरा और हुआ और लंबा लगता है.

Advertisements

 

आज हम आपको कुछ ऐसे आसान उपाय बताने जा रहे है जिन्हे सुबह के समय करने से आपका पूरा दिन तो अच्छा रहेगा ही साथ ही आपको कभी भी पैसो की कोई कमी नहीं होगी.

उठते ही देखें अपनी हथेलियां See your palms –

मान्यता है कि सुबह उठते ही अपनी हथेलियों को देखने से महालक्ष्मी, सरस्वती माँ के साथ ही भगवान विष्णु की भी कृपा प्राप्त होती है. इसलिए अगर आप सुबह बिस्तर से उठते ही अपने दोनों हथेलियों को आपस में मिलाकर देखते है. तो आप बहुत जल्द पैसो की तंगी से छुटकारा पा सकते है.

Advertisements

 

भूमि को करें नमस्कार Greet the Land –

माना जाता है कि धरती पर पैर लगाने से हमे दोष लगता है. जिसके कारण हमारे जीवन में कोई न कोई परेशानी हमेशा लगी रहती है. इसलिए सुबह के समय बेड से पैर नीचे रखते ही भूमि को नमस्कार करे. ऐसा नियमित रूप से करने से आप पर हमेशा माँ लक्ष्मी की कृपा बनी रहती है.

उठते ही बिस्तर को साफ करें Clean the bed as soon as you get up – 

सुबह बिस्तर से उठते ही हमे सबसे पहले अपना बिस्तर साफ़ कर लेना चाहिए क्योकि फैला और गंदा  बिस्तर घर में गरीबी लाता है इसलिए सुबह उठते ही सबसे पहले बिस्तर को साफ करे। ऐसा करने से  आप बहुत जल्द पैसो की समस्या से छुटकारा पा सकते है.

मंदिर को हमेशा साफ रखें always keep the temple clean –

याद रखे कि घर में बने मंदिर में कभी भी सामान अव्यवस्थित या फैला हुआ ना हो. मन्दिर में मूर्तियां और पूजा का सामान सुव्यवस्थित तरीके से सजा हुआ होना चाहिए। ऐसा करने से देवी-देवता प्रसन्न होते है और साथ ही कुंडली के दोष भी शांत होते है।

Advertisements

 

सुबह उठने के बाद स्नान कर रोजाना दीपक जलाने से और नियमित रूप से मंदिर की सफाई करने से नकारात्मक ऊर्जा घर से दूर होती है और हमे कभी पैसो की तंगी का सामना नहीं करना पड़ता.

इष्टदेव को याद करें Wake up in the morning and remember Your God –

सुबह उठते ही स्नान के बाद हाथ जोड़कर अपने इष्टदेव को याद करें और उनका ध्यान करे। इससे इष्टदेव की कृपा सदैव आपके ऊपर बनी रहेगी और साथ ही आपको कभी धन का अभाव भी नहीं रहेगा।

गाय को रोटी खिलाएं feed the Cow – 

Advertisements

 

सुबह के समय जब भी आप पहली रोटी बनाएं तो उस रोटी को गाय के लिए निकाल ले और जब भी आपको गाय दिखे तो उसे वह रोटी खिला दे। ऐसा करने से हमारे घर में सकारात्मकता आती है और नकारात्मक ऊर्जा घर से दूर होती है.

माता-पिता का आशीर्वाद लें Take the blessings of parents-

जब भी आप घर से किसी काम के लिए बाहर निकले तो ध्यान रखे कि घर से बाहर निकलने से पहले अपने माता-पिता व घर के बड़े-बुजुर्गों के पैर छूकर आशीर्वाद जरूर ले। ऐसा करने से आपकी कुंडली में स्थित सभी विपरीत ग्रह आपके अनुकूल हो जाएंगे और साथ ही आपको शुभ फल प्रदान करेंगे और आपके काम बनते चले जाएंगे।

Advertisements