बसंत पंचमी 2018 शुभ मुहूर्त और पूजा विधि 22 January Basant Panchami

वसंत पंचमी पूजा कैसे करे Basant Panchami Puja Vidhi 2018

पूरे भारत में बसंत पंचमी का पर्व बहुत ही धूमधाम से मनाया जाता है. इस पर्व पर कई क्षेत्रों में मेलों का आयोजन भी होता है. इस शुभ पर्व में वीणापाणी मां सरस्वती की पूजा की जाती है. साल 2018 में यह त्यौहार 22 जनवरी 2018 सोमवार को मनाया जायेगा.

सोमवार को होने के कारण इस दिन सरस्वती विष्णु के साथ ही महादेव की पूजा से शुभ फल प्रदान होगा. आज हम आपको साल 2018 में बसंत पंचमी पर्व के शुभ मुहूर्त और माँ सरस्वती के पूजा विधि के बारे में बताएँगे.

बसंत पंचमी पूजा विधि –

देवी भागवत के मुताबिक़ माँ सरस्वती की सर्वप्रथम पूजा भगवान श्री कृष्ण ने की थी। प्रात:काल स्नानादि कर पीले वस्त्र धारण करें और मां सरस्वती की तस्वीर स्थापित करें। इसके बाद कलश स्थापित कर भगवान श्री गणेश जी और नवग्रहों की विधिवत पूजा करें। अब मां सरस्वती की ध्यानपूर्वक पूजा – आराधना करें।

 

मां सरस्वती की पूजा करते समय सबसे पहले उन्हें स्नान कराएं। फिर माँ का श्रंगार करें. माता सरस्वती श्वेत वस्त्र धारण करती हैं इसलिए आप चाहे तो उन्हें श्वेत वस्त्र पहनाएं। और प्रसाद के रुप में खीर या दूध से बनी मिठाईयां चढ़ाये. और अब माँ सरस्वती के मंत्र का जाप करें.

देवी सरस्वती पूजन का शुभ मुहूर्त –

बसंत पंचमी – 22 जनवरी 2018

पूजा का समय – 07 बजकर 17 मिनट से 12 बजकर 32 मिनट तक

पंचमी तिथि का आरंभ – (21 जनवरी 2018) 3 बजकर 33 मिनट से

पंचमी तिथि समाप्त – (22 जनवरी 2018) 16 बजकर 24 मिनट तक

Advertisements