देर रात खाने से सेहत को होते है ये नुकसान eating late at night bad for our health Health Benefits

कहीं आप तो नहीं करते देर रात डिनर Side effects of late-night dinner

हममे से ही कई लोग रात का खाना अक्सर देर से ही खाते हैं, जबकि ये बात सभी लोग ही जानते हैं कि अच्छी सेहत के लिए खाना जल्दी खाना चाहिए। रात को देर से भोजन करना हमारे स्वास्थ्य को कई बीमारियों से प्रभावित कर सकता हैं।

Advertisements

 

रात के समय शरीर की पाचन क्रिया और मेटाबॉलिज्‍म प्रोसेस धीमी को जाती है. इसीलिए एक्‍सपर्ट भी सोने से 2 से 3 घंटे पहले खाना खाने की सलाह देते हैं। लेट डिनर का सबसे बड़ा साइड इफेक्ट अम्ल प्रतिवाह यानी एसिड रिफ्लक्स है जिससे और भी कई बीमारियां होने की संभावना बढ़ जाती है। आज हम आपको देर रात भोजन करने के कुछ ऐसी समस्याओ के बारे में बताएँगे जिन्हे जानकर आप आज से ही लेट नाईट डिनर करना छोड़ देंगे.

Advertisements

 

एसिडीटी की समस्या – यदि आप लगातार ही देर रात में खाना खा रहे है तो इससे आपकी सेहत को भरी नुक्सान हो सकता है. देर से खाना खाना से हमारी पाचन क्रिया धीमी होती है, जिसके कारण पेट में गैस और एसिडिटी होने से समस्या शुरू होने लगती है।

डायबिटीज की समस्या – यदि  आप देर रात खाना कहते है तो आपको डायबिटीज की समस्या से गुजरना पड़ सकता है. जी हाँ, दोस्तों देर रात खाना खाने से हमारे शरीर का मेटाबॉलिज्‍म प्रोसेस ठीक से काम नही करता है। जिससे  शुगर लेवल बढ़ सकता है और डायबिटीज हो सकती है। इसलिए देर रात खाना ना खाये.

Advertisements

 

हाई बीपी की समस्या – जो लोग देर रात भोजन करते है उनमे हाई बीपी की शिकायत काफी देखने को मिलती है. यदि आप भी हाई बीपी की समस्या से परेशान है तो देर रात भोजन करने से बचे. खाना खाने के कम से कम 2 घंटे बाद बिस्तर पर जाना चाहिए, लेकिन अगर आप खाना ही देर में खाएंगे तो तुरंत बिस्तर पर चले जाएंगे, जो आपके लिए सेहत के लिए काफी नुकसानदेह हो सकता है।

अल्‍सर की समस्या – देर रात खाना खाकर सोने से पेट का एसिड खाने की नली के माध्यम से मुंह में आने लगता है। जिसके कारण जलन, एसिडिटी के अलावा अल्‍सर और कैंसर जैसी समस्‍या हो सकती है।

मोटापे की समस्या – यदि आप पहले से ही मोटापे की समस्या से परेशान है तो देर रात खाना खाने से बिलकुल ही दूर रहे. क्योकि देर रात खाना खाने से आपकी यह समस्या और भी बढ़ सकती है. रात के समय पाचन क्रिया धीमी हो जाती है जिसके कारण शरीर में फैट जमा होने लगता है और मोटापा बढ़ सकता है।

Advertisements