आर के लक्ष्मण जी के प्रेरणादायक सुविचार R K Laxman Thoughts and Quotes

आर के लक्ष्मण जी के अनमोल ज्ञानवर्धक विचार Best Thoughts of R K Laxman

%e0%a4%86%e0%a4%b0-%e0%a4%95%e0%a5%87-%e0%a4%b2%e0%a4%95%e0%a5%8d%e0%a4%b7%e0%a5%8d%e0%a4%ae%e0%a4%a3-%e0%a4%95%e0%a5%87-%e0%a4%85%e0%a4%a8%e0%a4%ae%e0%a5%8b%e0%a4%b2-%e0%a4%9c%e0%a5%8d%e0%a4%9eआर॰के॰ लक्ष्मण जी का वास्तविक नाम रासीपुरम कृष्णस्वामी लक्ष्मण है. इनका जन्म 24 अक्टूबर 1921  को मैसूरु, ब्रिटिश इंडिया (कर्नाटक) में हुआ था तथा उनके पिता प्रधानाचार्य थे . आर॰के॰ लक्ष्मण जी भारत के प्रमुख हास्यरस लेखक और व्यंग-चित्रकार थे. इन्हें द कॉमन मैन नामक उनकी रचना और द टाइम्स ऑफ़ इंडिया के लिए लिखी जानी वाली कार्टून शृंखला “यू सैड इट” के लिए जाना जाता था.

Advertisements

 

सुविचार (Quotes) 1. मेरी हर एक ड्राइंग मेरी फेवरेट है .

सुविचार (Quotes) 2. मुझे लगता है अराजकता हमारे लिए बेहतर होती .

सुविचार (Quotes) 3. मुझे याद नहीं कि मैंने ड्रा करने के आलावा कभी कुछ और चाहा है .

सुविचार (Quotes) 4. नए विचारों की खोज करना एक अंतहीन प्रक्रिया है।

सुविचार (Quotes) 5. कार्टूनिंग अपमान और उपहास करने की कला है।

सुविचार (Quotes) 6. बदलाव ? क्या आकाश का रंग कभी बदलता है ? मेरा प्रतीक कभी नहीं बदलेगा .

Advertisements

 

सुविचार (Quotes) 7. सच कहूँ तो, हमारी राजनीति इतनी दुखद है कि अगर मैं एक कार्टूनिस्ट नहीं होता तो मैं आत्महत्या कर चुका होता .

सुविचार (Quotes) 8. मैं हमारे नेताओं का आभारी हूँ . उन्होंने देश का नहीं बल्कि मेरा ध्यान रखा है .

सुविचार (Quotes) 9. एक बच्चे को, वास्तविकता कल्पना से कहीं अधिक शानदार लगती है।

सुविचार (Quotes) 10. कौवे दिखने में इतने अच्छे और बुद्धिमान होते हैं . राजनीति में मुझे ऐसे चरित्र कहाँ मिलेंगे ?

सुविचार (Quotes) 11. मैं ये नहीं भूला हूँ कि तुम रंगीन कांच के टुकड़ों के माध्यम से दुनिया देख सकते हो .

Advertisements

 

सुविचार (Quotes) 12. ये बताना असंभव है कि एक कार्टूनिस्ट कसी बनें ; आपको इस उपहार के साथ पैदा होना होता है, ठीक वैसे ही जैसे आप किसी को ये नहीं बता सकते कि कैसे गायें .

सुविचार (Quotes) 13. कार्टूनिंग और ड्राइंग के लिए भारत जैसा कुछ भी नहीं!

सुविचार (Quotes) 14. कार्टून में अवलोकन, सेंस ऑफ़ ह्यूमर, उपहास्यता और विरोधाभास होता है – जीवन !

सुविचार (Quotes) 15. भारत का आम आदमी भोजन, प्रकाश, हवा, आश्रय के बिना जीवित रह सकता है .

सुविचार (Quotes) 16. मुझे लगता है जब हमारे शक्तिशाली राजनेताओं को मजाकिया और उटपटांग तरीके से दिखाया जाता है तब सबको मजा आता है .

Advertisements

 

Related Post