बेजान बाल, डैमेज बालों के उपाय Dry and Damaged Hair treatment tips

बेजान और रूखे बालों का उपचार करने के आसान उपाय(Home Remedies Tips for Dry and Damaged Hair Repair Solution)

बेजान और रूखे बालों का उपचार करने के आसान उपाय upcharnuskheहमारी सुंदरता को निखारने में बालों का महत्तवपूर्ण योगदान होता है. सुन्दर तथा चमकदार बाल हमारी खूबसूरती में चार चाँद लगा देता हैं. लेकिन आजकल की भागदौड़ भरी जिंदगी में बालों का ख्याल ना रख पाने के कारण बालों में कई तरह की समस्यों आने लगती हैं. आपके बाल छोटे हो या बड़े उन्हें देखभाल की जरूरत पड़ती ही है. खूबसूरत बालों को चाह हर किसी को होती है.

Advertisements

 

दुनिया में अनेक लोग बालों की समस्याओं से परेशान है.उचित पोषण न मिलने के कारण हमारे बालों में अनेक प्रकार की समस्याएं उत्पन्न हो जाती है. बालों की सही तरह से देखभाल न की जाये तो बालों में अनेक प्रकार के दुष्प्रभाव पड़ते है, जैसे बालों का सफ़ेद होना, बालों का झड़ना, रुसी आदि. बालों की इन समस्याओं को दूर करने के लिए अनेक व्यक्ति बाजार में मिलने वाले हेयर प्रोडक्ट का प्रयोग करते हैं मगर इन प्रोडक्ट का अधिक इस्तेमाल कभी-कभी हमारे बालों को सूट नहीं करता. इन सभी समस्याओं के समाधान के लिए आप कुछ घरेलु टिप्स की मदद लें सकते हैं. इनके प्रयोग से बालों को सुरक्षित तथा मजबूत रखा जा कस्ता है.

बालों के रूखे तथा डैमेज होने के कारण (what is dry and damaged hair causes)

आनुवंशिक कारण से बालों का रूखा तथा डैमेज होना- रूखे बालों का एक मुख्य कारण इनमें नमी की कमी का होना है. जब बाल अपनी चमक को खो देते हैं तो वे बेजान, रूखे बाल हो जाते हैं. अनेक बार यह समस्या आनुवंशिक कारणों से भी होने लगती है.

Advertisements

 

जरुरत से ज्यादा बालों को धोने से बालों का रूखा तथा डैमेज होना- कई लोग ऐसे होते हैं जो रोजाना अपने बालों को शैंपू करते हैं तथा बालों को जरूरत से ज्यादा बार धो लेते हैं जो हमारे बालों को ठीक करने की जगह नुकसान पहुंचाते हैं. जिसके कारण बाल डैमेज होने लगते हैं.

ब्लो ड्रायर का ज्यादा इस्तेमाल करने से बालों का रूखा तथा डैमेज होना- अधिकतर लोग बालों को सूखने के लिए ब्लो ड्रायर का इस्तेमाल या किसी हेयर ड्रायर का इस्तेमाल करते हैं. लेकिन बालों पर ब्लो ड्रायर या गर्म आयरन का इस्तेमाल अधिक नहीं करना छाईए इससे बल रूखे तथा डैमेज होने लगते हैं.

धूप में ज्यादा रहने से बालों का रूखा तथा डैमेज होना- आमतौर पर गर्मियों के दिनों में अधिक धुप होने के कारण धूप की अल्ट्रॉवायलेट किरणों से हमारे बाल खराब होने लगते हैं और बाल टूटने या डैमेज होने लगते हैं.

Advertisements

 

बालों में मॉइश्चर की कमी से बालों का रूखा तथा डैमेज होना- हमारे बालों में मॉइश्चर की कमी होने से अनेक समस्याएं होने लगती हों. जिनसे अनेक बार काफी मात्रा में बाल टूट जाते हैं और डैमेज होने लगते हैं.

डिहाइड्रेशन  से बालों का रूखा तथा डैमेज होना- शरीर में पानी की कमी होती है तो यह स्थिति डिहाइड्रेशन या निर्जलीकरण कहलाती है. इसकी कमी होने के कारण हमारे बालों में बहुत बुरा प्रभाव पड़ता है और बाल रूखे होने लगते हैं.

डैमेज तथा रूखे बालों की समस्या का समाधान करने के उपाय

कद्दू का प्रयोग डैमेज तथा रूखे बालों के लिए

कद्दू के प्रयोग से भी डैमेज बालों की समस्या को ठीक किया जा सकता है. इसके लिए आप एक कद्दू को शिकार इसके टुकड़े बना लें. अब इन टुकड़ो में थोड़ा दही मिलाकर इस मिक्स कर लें. अब इस मिश्रण को अपने बालों में लगाए. कुछ देर रखने के बाद बालों को साफ पानी से धो दें. कद्दू में बहुत से विटामिन मौजूद होते हैं जो हमारे बालों को स्वस्थ रखने में सहायक होते हैं.

Advertisements

 

जैतून का तेल डैमेज तथा रूखे बालों के लिए

जैतून के तेल की मदद से आप अपने रूखे तथा डैमेज बालों की परेशानी से राहत पा सकते हैं. जैतून का तेल बालों के फोलिकल्स के बाहरी भाग को नमी प्रदान करता है. इस तेल थोड़ा गर्म करें. अब बालों के ऊपर ढकने वाले तौलिये पर पर्याप्त मात्रा में जैतून का तेल लगा लें. अब इस तौलिये को 2 मिनट तक माइक्रोवेव करें. इसे अपने सिर के चारों ओर लपेटकर रखें और कुछ देर के लिए छोड़ दें. फिर अपने बालों को शैम्पू कर लें. इससे बालों का रूखापन समाप्त हो जायेगा.

शहद का प्रयोग डैमेज तथा रूखे बालों के लिए

शहद भी डैमेज बाल के लिए लाभदायक तत्व है. बालों पर शैम्पू करने के बाद बालों में एक कप शहद का प्रयोग करके इसे आधे घंटे के लिए बालों में लगा रहने दें. इसके बाद गुनगुने पानी से बालों कप धो लें. शहद बालों में नमी को रोककर इन्हें नरम और रेशमी बनाने में हमारी मदद करता है.

Advertisements

 

बेकिंग सोडा का प्रयोग डैमेज तथा रूखे बालों के लिए

बेकिंग सोडा के प्रयोग से बालों की गंदगी साफ की जा सकती है. इसके प्रयोग के लिए एक चमम्च बेकिंग सोडा लें और इसे एक कप पानी में डाल दें. अब इस पानी से बालों को धोए.  इसके अलावा आप बेकिंग सोडा को शैम्पू में भी मिला सकते हैं. इससे बाल मुलायम बन जाते है और बालों की निचली त्‍वचा में नमी आने लगती है.

कच्चा दूध है फायदेमंद डैमेज तथा रूखे बालों के लिए

यदि आपके बाल रूखे या डैमेज है तो आप एल बाउल में थोड़ा कच्चा दूध लें. अब इसे रुई की मदद से बालों की जड़ों और बालों पर लगाएं. दूध को बालों में करीब एक घंटे तक लगा कर रखें. इससे रूखे बेजान बालों की समस्याएं दूर होने लगेंगी.

Advertisements

 

ब्लैक टी का प्रयोग डैमेज तथा रूखे बालों के लिए

ब्लैक टी के प्रयोग से डैमेज बालों को आसानी से ठीक किया जा सकता है. इसके प्रयोग के लिए सबसे पहले ब्लैक टी बना लें. अब इस ब्लैक टी से बालों को धोए तथा आधा घंटा बालों में लगा रहने दें फिर बालों को साफ पानी से धो दें. इससे आपके बाल चमकदार होने लगेंगे.

बालों का रूखापन और डैमेज बालों को ठीक करने के लिए योग

डैमेज बालों को ठीक करने के लिए बालायाम

बालायाम बालों की समस्या को दूर करने के लिए बहुत ही अच्छा योग है. इस करने के लिए अपने दोनों हाथों की चार उंगलियों के नाखूनों को आपस में रगड़ें. इस अभ्यास को अपना रूटीन बना लें. इससे आपके बाल लम्बे,घने तथा मजबूत बनते हैं.

बालों का रूखापन दूर करने के लिए वज्रासन योग

हमारे बालों को स्वस्थ रखने के लिए वज्रासन योग बहुत ही फायदेमंद होता है. वज्रासन हमारे पाचन तंत्र को ठीक कर हमारे बालों को लम्बा और घना बनाने में मदद करता है.

इस आसन में घुटनों को मोड़कर इस तरह से बैठें कि नितंब दोनों एड़ियों के बीच में आ जाएं। दोनों पैरों के अंगूठे आपस में मिले रहें और एड़ियों में अंतर भी बना रहे। दोनों हाथों को घुटनों पर रखें। पीछे की ओर अधिक न झुकें। शरीर को सीधा रखें ताकि संतुलन बना रहे। हाथों और शरीर को पूरी तरह ढीला छोड़ दें और कुछ देर के लिए अपनी आंखें बंद कर लें। अपना ध्यान सांसों पर केंद्रित रखें। इस आसन में पांच मिनट तक बैठे. फिर अपनी सामान्य अवस्था में आ जाये.

डैमेज बालों को समस्या को ठीक करने के लिए मत्स्यासन योग

मत्यासन योग बालों के रूखेपन को दूर करने में सहायक होता है साथ ही इससे बालों की ग्रोथ को बढ़ने में भी मदद मिलती है.

इस आसान को करने के लिए अपने पैरों को पीछे की ओर मोड़कर बैठिये और अपनी कमर के बल लेट जाइये। दोनों हाथ जांघों के समांतर रखें। कोहनी पर दबाव डालकर पेट को जरा ऊपर की ओर खींचे। इसी पोजीशन में तीस सेकंड तक रुके और अपनी समय अवस्था में वापस जाये.