Fate line in hand palmistry हस्तरेखा ज्योतिष bhagya rekha in hand

भाग्य रेखा कौन सी होती है,उसका जीवन से सम्बन्ध व प्रभाव

fate line upcharnushkheभाग्य रेखा– हिन्दू ज्योतिष शास्त्र के अनुसार हस्त रेखा से हम बहुत सी महत्वपूर्ण बातो का पता लगा सकते है,भाग्य रेखा आपके सफलता के बीच आने वाली बाधाओं, आपके भाग्य को दर्शाता है।

भाग्य रेखा(Career line) कौन सी होती है-

भाग्य रेखा का स्थान हृदय रेखा के मध्य से शुरू होकर मणिबन्ध(कलाई) तक फैला होता है, इस रेखा का प्रारंभिक बिंदु शनि पर्वत (मध्यमा अंगुली)  होता है।

Advertisements

 

भाग्य रेखा का सम्बन्ध-

भाग्य रेखा का सम्बन्ध आपके करियर में उतार-चढ़ाव के परिवर्तन, आपके कार्य क़ी योग्यता से होता है, इस रेखा के द्वारा आपके नौकरी के भाग्य को दर्शाता है, इस रेखा को करियर रेखा भी कहते है।

भाग्य रेखा का जीवन में असर-

भाग्य रेखा का अभाव हो– जिस व्यक्ति के हाथ में भाग्य रेखा का अभाव होता है ऐसे व्यक्ति का कोई करियर नहीं होता है, आप जॉब में हमेशा परिवर्तन करते रहते है मतलब आपकी कोई स्थायी नौकरी नहीं होती है ,जैसी नौकरी आप चाहते है वैसी नहीं मिलती है।

भाग्य रेखा गहरी और लम्बी हो– अगर भाग्य रेखा गहरी और लम्बी हो तो ऐसे व्यक्ति अपने करियर या व्यवसाय में बहुत आगे जाते है।

Advertisements

 

भाग्य रेखा पतली व संकरी हो– अगर भाग्य रेखा पतली व संकरी हो तो युवावस्था के दौरान करियर धीमा रहेगा।

भाग्य रेखा का प्रारम्भ जीवन रेखा से हो– अगर किसी क़ी भाग्य रेखा जीवन रेखा से शुरू हो रही है तो आप सकारात्मक ऊर्जा व कड़ी मेहनत के साथ उन्नति पाने वाले व्यक्ति है,आप अपनी जीवन में महान उपलब्धियां तो हासिल नहीं कर पाएंगे  लेकिन आप अपने जीवन में संतुष्ट व खुश रहेंगे।

भाग्य रेखा का प्रारम्भ ह्रदय रेखा से हो– अगर भाग्य रेखा का उद्गम ह्रदय रेखा से होता है तो सफलता के लिए थोड़ा इंतजार करना पड़ेगा, युवावस्था के  दौरान आप करियर में स्थिर नहीं होंगे, वृध्दावस्था में आप अपने करियर के द्वारा खुशी से जीवन यापन करेंगे।

भाग्य रेखा मस्तिष्क रेखा से ह्रदय रेखा तक टूटी हो– अगर भाग्य रेखा हेड रेखा से ह्रदय रेखा तक टूटी हुई होती है तो जातक का करियर 40 साल के बाद बेहतरीन होता है। 

भाग्य रेखा कलाई से टूटी हो– भाग्य रेखा कलाई से टूटी हो तो किसी न किसी तरह बचपन और कम उम्र में शैक्षणिक व्यवधान आता है।

भाग्य रेखा हथेली के बीच से टूटी हो– भाग्य रेखा हथेली के बीच से टूटी हुई होती है तो युवावस्था में ही  कैरियर और संपत्ति का नुकसान हो जाता है।

Advertisements

 

भाग्य रेखा तीन भागो में फैली हो– अगर भाग्य रेखा अंत में तीन भागो क़ी ओर फैली है तो यह आपके प्रसिद्ध और अमीर जीवन को प्रदर्शित करती है।

भाग्य रेखा प्रारम्भ में जंजीरनुमा हो– अगर भाग्य रेखा प्रारम्भ में जंजीर नुमा आकार हो तो यह दुखी जीवन दर्शाता है जो युवावस्था में अध्ययन में ध्यान केंद्रित करने से रोकता है।

भाग्य रेखा अंत में जंजीरनुमा हो– अगर जातक क़ी भाग्य रेखा अंत में जंजीर के आकार कि हो तो आपको जीवन-काल में वित्तीय परेशानी से समझौता करना पड़ता है। 

Fate line and its impact in our life-

Fate line is absent– It means you don’t have career because you always change your job, not permanent occupation in your life. If you’re looking for the same kind of jobs are not found.

Fate line is deep and long– It means a strong ability to start and run your own career, business.

Fate line is thin and narrow– It indicates a sleek career destiny during the younger age.

Advertisements

 

Fate line starting from life line– It means you have progress with hard work and positive energy. You have not get great achievement but happy in your life.

Fate line starting from heart line– It indicate late success in your life, your destiny of career changes for the better after the younger age.

Fate line split from head line to heart line– It means your career has been superb after 40 year.

Fate line split from wrist– Somehow childhood and early education is interrupted.

Fate line split of middle of the palm– It means you have loss of property and your career in young age.

Fate line divided into three parts– If fate line divided into three parts it indicates the famous and wealthy life.

Advertisements

 

Fate line starting from chain– It indicates unhappy life which prevents the focus of the study during young age.

Fate line ending from chain– It indicate struggle of finance problem during the life.

BACKBUTTON

Related Post